Nothing found
Thank you! Your submission has been received!
Oops! Something went wrong while submitting the form.

सहमति क्या है?

आप अपने पार्टनर के साथ क्या करना चाहते हैं यह तय करने की प्रक्रिया को सहमति कहते हैं। हम सहमति का प्रयोग अपने दैनिक जीवन में कर सकते हैं, चाहे वह नये सहकर्मी से यह पूछना हो कि क्या वह गले लगने के लिए राज़ी हैं या ग्रिंडर पर मिले व्यक्ति को यह बताना हो कि आप किन यौन कर्मों के साथ सुविधाजनक महसूस करते थें।

जब यौन संबंधों की बात हो तब सहमति यह निर्धारित करती है कि कि हर किसी को बिना किसी नुकसान के वह मिले जो वह चाहते हैं। सहमति मुक्त वार्तालाप के बारे में है, और यह दो तरफ़ा है: सहमति लेना और देना।

सहमति लेने का मतलब है इस बात की सुस्पष्ट उत्साहपूर्ण स्वीकृति लेना कि आपके पार्टनर सुरक्षित और दृढ़ महसूस कर रहे हैं, और आनद ले रहे हैं। ये कई तरीकों से हो सकता है, जिनमें सवाल पूछना ("क्या हम आपकी शर्ट उतार सकते हैं...") और राय देना (हम आपको चुम्बन देना चाहेंगे, क्या ये ठीक रहेगा?) शामिल है। अपने पार्टनर से लगातार सम्वाद बनाए रखकर और उनकी सहमति ल���कर आप यह सुनिश्चित करेंगे कि आप एक दूसरे की हदों को समझें और उनका सम्मान करें।

सहमति देने का अर्थ है कि आप अपने पार्टनर को यह लगातार बताते रहें कि आप आनंद ले रहे हैं और जो भी हो रहा है आप उससे राज़ी हैं। आप "हाँ" बोलकर मौखिक सहमति भी दे सकते हैं और गैर-मौखिक संदेश देकर पार्टनर को यह भी ज़ाहिर कर सकते हैं कि आप अच्छा अनुभव कर रहे हैं।

यह याद रखना आवश्यक है कि सहमति कभी भी वापस ली जा सकती है। क्या आपने किसी से ग्रिंडर पर कुछ कहा है लेकिन उनसे मिलने के बाद आपने कुछ और महसूस किया हो? आप क्या करना चाहते हैं इस बारे में किसी भी वक्त अपनी राय बदल सकते हैं। अपने ग्रिंडर पर किसी बात के लिए सहमति दी है इसका ये मतलब बिल्कुल भी नहीं है कि आप मिलने पर वैसा ही करने के लिए बाध्य हैं। ज़रूरी यह है कि आप और आपके पार्टनर जो भी करते हैं उससे आप सम्मानित और संतुष्ट महसूस करें।

सहमति के बारे में और जानकारी के लिए प्लैंड पैरेंटहूड से यह विडियो देखें। सहमति कैसे व्यक्त करें इसके उदाहरण जानने के लिए टीन वॉग की यह सूची देखें।

Recently viewed articles

Related articles